apple ios 15 vs android: Apple iOS 15 vs Android 12: आपका ऑपरेटिंग सिस्टम है कितना दमदार, पता चलेगा जब पढ़ेंगे यह खबर – apple ios 15 vs android 12 know which operating system is best know features and everything you need to know

[ad_1]

हाइलाइट्स:

  • iOS 15 में मौजूद हैं कई फीचर्
  • Android 12 को भी बनाया गया दमदा
  • दोनों दे रहे हैं एक-दूसरे को कड़ी टक्कर

नई दिल्ली। Apple iOS 15 vs Android 12: Apple ने हाल ही में WWDC 21 इवेंट में iOS 15 अपडेट किया है। इसके आने के बाद आईफोन में काफी बड़े बदलाव आ जाएंगे। इस बार एप्पल ने नोटिफिकेशन मुद्दे का हल करते हुए प्राइवेसी और पर्सनलाइजेशन पर काफी ध्यान दिया है। वैसे तो यह पिछले ऑपरेटिंग सिस्टम iOS 14 जितना बड़ा बदलाव नहीं है, लेकिन यूजर्स के लिए काफी कुछ नया इसमें मौजूद है। इसी प्रकार एंड्रॉयड 12 के बारे में भी कहा जा रहा है। एंड्रॉइड में Google के एनुअल अपग्रेड में बीते वर्ष iOS 14 की तरह बड़े स्तर पर बदलाव देखा था। Pixel में वह बदलाव साफ तौर पर देखा जा सकता है जो कि Google, एंड्रॉयड प्लेटफॉर्म पर ला रहा है। Google ने अपनी प्राइवेसी नीतियों में भी इजाफा किया है और ऑपरेटिंग सिस्टम में काफी कुछ जोड़ भी दिया है। कुल मिलाकर बात करें तो एंड्रॉयड 12 में काफी कुछ नया है। यहां हम आपको बता रहे हैं कि कौन सा ऑपरेटिंग सिस्टम आपको ज्यादा फीचर्स दे रहा है।
आईफोन बढ़िया या एंड्रॉइड स्मार्टफोन? iOS 15 और Android 12 के दमदार फीचर्स से पता चलेगा
iOS 15 में क्या है खास:

एप्पल ने iOS 15 के साथ आईफोन में इस साल काफी कुछ नहीं बदला है। इस साल एप्पल ने लाइफ को आसान बनाने के लिए छोटी-छोटी चीजों पर ज्यादा फोकस किया है। इस बार नए स्टिल वॉलपेपर और रि-डिजाइन नोटिफिकेशन के अलावा इंटरफेस आमतौर पर समान ही है। इस साल Apple ने नोटिफिकेशन पर काम किया है। अब यूजर्स नोटिफिकेशन को अलग-अलग प्रोफाइल जैसे डीएनडी, ड्राइविंग, वर्क, होम बांट सकते हैं। इसमें आप किसी को चुनेंगे तो iOS सिर्फ उन्हीं ऐप्स से नोटिफिकेशन भेजेगा। जिनकी जरूरत नहीं है तो उनकी नोटिफिकेशन नहीं नजर आएंगी और एक साथ सभी नोटिफिकेशन को भी देखा जा सकता है। इस बार नोटिफिकेशन UI, एंड्रॉयड जैसा ही है।

इस बार नोटिफिकेशन पर काफी फोकस है। यह इस बार एंड्रॉयड जैसा है, जिसमें आपका फोन पर ज्यादा कंट्रोल रहेगा। अगर आप डीएनडी एनेबल करते हैं तो आपको iMessage पर मैसेज भेजने वाले यूजर्स को आपकी DND स्थिति के बारे में जानकारी मिलेगी। इसके अलावा FaceTime में काफी बदलाव हुए हैं, जैसे बैकग्राउंड नॉइज रिडक्शन, वीडियो कॉल में पोर्ट्रेट मोड इफेक्ट और ग्रुप कॉल में ग्रिड व्यू आदि शामिल है। SharePlay के जरिए iPhone यूजर्स वीडियो कॉल से एक साथ वीडियो देख सकते हैं या म्यूजिक सुनने का आनंद ले सकते हैं। इसके अलावा एंड्रॉयड यूजर्स वेब ब्राउजर के जरिए फेसटाइम लिंक के साथ फेसटाइम कॉल भी कर सकते हैं।

AC Buying Guide: इन टिप्स को फॉलो कर अपने लिए खरीदें नया Window या Split AC, कभी नहीं होगा घाटे का सौदा
इसके अलावा सफारी में स्मार्ट टैब मैनेजमेंट के साथ बदलाव हुए हैं। इस बार सर्च बार सबसे नीचे दिया गया है, जिससे आप नेक्स्ट पर जाने के लिए स्विच कर सकते हैं। अब कैमरा, अन्य ऐप्स में कॉपी करने या नोट्स के तौर पर सेव करने के लिए फोटो से टेक्स्ट को स्कैन कर सकता है। स्पॉटलाइट सर्च अब उन फोटो और वेब इंफॉर्मेशन को दिखाती है जो कि आपके लिए जरूरी हैं। सिरी का इस्तेमाल ऑफलाइन भी हो सकता है। सबसे आखिर में प्राइवेसी की बात करें तो अब आपके द्वारा इंस्टॉल की गई सभी ऐप्स यह बताएंगी कि आपका डाटा कहां सेव हो रहा है और उसको कैसे ट्रैक कर सकते हैं।

iOS 15 अपडेट, iPhone 6S मॉडल से लेकर सभी नए मॉडल पर लागू होगा, जिसमें iPhone 7 सीरीज, iPhone 8 सीरीज, iPhone X, iPhone XS सीरीज, iPhone XR, iPhone 11 सीरीज, iPhone 12 सीरीज, iPhone SE, iPhone SE 2020 और iPod Touch 7th Gen शामिल है।
दोबारा नहीं मिलेगा इससे सस्ता ऑफर, 800 रु.से भी कम घर ले आएं Refrigerator, फीचर्स कर देंगे हैरान
Android 12 में क्या है खास:

Android 12 में इस बार सबसे ज्यादा प्राइवेसी पर फोकस किया गया है। एंड्रॉइड ने इस बार डिजाइन थीम पर भी काफी ध्यान दिया है। इस साल Android 12 अन्य किसी भी कस्टम स्किन से अलग दिखता है। इसमें बड़े स्तर पर विजेट और बेहतरीन नोटिफिकेशन शेड हैं। अब लॉकस्क्रीन, एओडी और होममस्क्रीन में फोन वॉलपेपर के कलर्स से नए कलर्स का बेस तैयार करेगा। इस बार कई थीम डार्क और लाइट की बजाय कलर बेस्ड होंगी। वहीं मैटेरियरल यू डिजाइन थीम Pixel तक की सीमित रहेगी। इस बार नोटिफिकेशन शेड से Google Pay और होम कंट्रोल पर आसानी से एक्सेस मिलेगी। इस बार गूगल एसिस्टेंट को पॉवर बटन को दो बार प्रेस करके एक्सेस कर सकते हैं।

इस बार गूगल, Android 12 से फास्ट काम करेगा। सीपीयू का समय 22 प्रतिशत कम होगा और नया एनिमेशन अनुभव अलग लेवल पर चले जाएगा। एंड्रॉयड टीवी रिमोट अब डिफॉल्ट तौर पर सिस्टम से सेट हुआ है। अब क्रोम ब्राउजर आपको कमजोर पासवर्ड की जानकारी देगा और गूगल एसिस्टेंट आपको उन्हें तुरंत बदलने की सलाह देगा।
Amazon Mobile Savings Days Sale: 16,990 रु. का स्मार्टफोन 1,000 रु. से कम में खरीदने का मौका, अभी उठाएं लाभ
Android 12 की बदौलत इस बार प्राइवेसी अलग स्तर पर चली जाएगी। iOS 15 की तरह एक नई प्राइवेसी डैशबोर्ड ऐप दी गई है जो कि चेक करती है कि कौन सी ऐप सेंसर के जरिए निजी डाटा का इस्तेमाल कर रही है। हालांकि यह iOS 15 की तरह वेबसाइट्स ट्रैक नहीं करता है। ऐप के इस्तेमाल के दौरान प्राइवेसी इंडीकेटर्स यूजर्स को डिवाइस सेंसर एक्सेस के बारे में जानकारी देंगे। गूगल ने भी सभी कलर्स के यूजर्स के लिए आसान बनाने के लिए कैमरा एल्गोरिदम को भी बेहतरीन कर रहा है।

Android 12 अपडेट Pixel 3 सीरीज, Pixel 3a सीरीज, Pixel 4 सीरीज, Pixel 4a सीरीज और Pixel 5 सीरीज पर काम करेगा। इसके अलावा एंड्रॉयड साझेदारों पर निर्भर करता है कि वह एंड्रॉयड 12 के सपोर्ट के कौन सी डिवाइस लाते हैं। बीटा में भाग लेने वाले कुछ बड़े प्रतिभागियों के नाम OnePlus, Xiaomi, Asus, Oppo और Realme हैं।

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!