Cbse Class 12 Exams 2021 Education Minister Meeting With Defence Minister Rajnath Singh Live: Will Take Decision On Neet Jee Main – Cbse 12th Exam 2021 Live: कुल 174 विषय, लेकिन केवल इन्हीं विषयों की परीक्षाएं आयोजित करने का है प्रस्ताव


10:32 AM, 23-May-2021

सभी विषयों की नहीं होगी परीक्षा, मुख्य विषय में केवल 20 शामिल

पहले प्रस्ताव के मुताबिक कक्षा बारहवीं के 174 विषयों में से केवल 20 मुख्य विषयों की ही परीक्षा ली जाएगी। इसमें  फिजिक्स, केमिस्ट्री, मैथमेटिक्स, बायोलॉजी, हिस्ट्री, पॉलिटिकल साइंस, बिजनेस स्टडीज, अकाउंट्स, जियोग्राफी, इकोनॉमिक्स और इंग्लिश आदि विषय शामिल हैं। इन मुख्य विषयों में प्राप्त अंकों के आधार पर अन्य विषयों का परिणाम तैयार किया जाएगा। 

 

10:16 AM, 23-May-2021

12वीं बोर्ड परीक्षा के विकल्पों पर होगी चर्चा

एक तरफ जहां सोशल मीडिया 12वीं बोर्ड परीक्षा को रद्द करने की मांग की जा रही है। वहीं दूसरी तरफ रविवार यानी आज 11 बजे होने वाली इस बैठक में सभी केंद्रीय और राज्य मंत्री बारहवीं बोर्ड परीक्षा आयोजित करने के विकल्पों पर चर्चा करने जा रहे हैं। इसके लिए विशेषज्ञों द्वारा तीन प्रकार के प्रस्ताव भी तैयार किए गए हैं।  

10:05 AM, 23-May-2021

देश के सभी विद्यार्थियों का परिणाम एक ही स्कीम के तहत होगा तैयार

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार सीबीएसई और राज्यों के प्रदेश शिक्षा बोर्ड के लिए समान फॉर्मूला तय किया जाएगा। ताकि देश के सभी विद्यार्थियों का अंतिम परिणाम एक ही स्कीम के तहत तैयार हो और किसी भी विद्यार्थी को भविष्य में इसका फायदा या नुकसान न पहुंचे।

09:54 AM, 23-May-2021

रमेश पोखरियाल ने सचिवों और राज्य शिक्षा मंत्रियों से मांगे सुझाव

शिक्षा मंत्री ने सभी राज्य शिक्षा मंत्रियों और सचिवों से इस महत्वपूर्ण बैठक में शामिल होने और आगामी परीक्षाओं पर अपने सुझाव देने का अनुरोध किया है। 

09:14 AM, 23-May-2021

LIVE: कुल 174 विषय, लेकिन केवल इन्हीं विषयों की परीक्षाएं आयोजित करने का है प्रस्ताव

कोरोना महामारी को मद्देनजर रखते हुए कक्षा 12वीं के केवल मुख्य विषयों की परीक्षा  ही ऑफलाइन मोड में आयोजित की जाए। राज्यों में दो चरणों में सभी विषयों की परीक्षा आयोजित हो। बारहवीं बोर्ड परीक्षा को रद्द कर, आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर विद्यार्थियों का अंतिम परिणाम तैयार किया जाए। आज 11 बजे आयोजित होने वाली उच्च स्तरीय बैठक में इन्हीं तीन विकल्पों पर चर्चा की जाएगी। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के अधिकारी द्वारा यह जानकारी दी गई है। सीबीएसई अधिकारी के मुताबिक अभी तक कोई भी फैसला नहीं लिया गया है। सभी सुझावों पर विचार-विमर्श करने के बाद शिक्षा मंत्री द्वारा ही अंतिम निर्णय लिया जाएगा। 





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!