chitfund company latest news: लोगों के करोड़ों रुपये लेकर भागने वाले आरोपी 3 साल बाद गिरफ्तार… बेटा-बेटी के नाम पर बनाई थी चिटफंड कंपनी – accused who ran away with crores of rupees of people arrested after 3 years in firozabad

[ad_1]

फिरोजाबाद
उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद में लोगों का पैसा निवेश कराकर फरार हुआ आरोपी तीन साल बाद पुलिस के हत्थे चढ़ गया। पुलिस ने आरोपी, उसकी पत्नी, पुत्री और एक पुत्र को गिरफ्तार किया है। मौके पर पैसा लगाने वाले निवेशक भी थाने पहुंच गए।

तीन साल पहले दर्ज हुआ था मुकदमा
फिरोजाबाद के थाना दक्षिण इंस्पेक्टर सुशांत गौर ने बताया कि शहर के लक्ष्मीनगर जैन खेड़ा निवासी उमेश चन्द्र शर्मा, उनकी पत्नी सरिता शर्मा, बेटी काजल शर्मा और बेटा विवेक शर्मा को गिरफ्तार किया गया है। इनके विरुद्ध जालसाजी और धोखाधड़ी के मामले में तीन साल पहले मुकदमा पंजीकृत हुआ था।

बच्चों को बनाया था कंपनी का डायरेक्टर
पुलिस के मुताबिक, उमेश चन्द्र ने फर्जी कागजात तैयार कर सतगुरु निधि प्राइवेट लिमिटेड, संकल्प इन्फ्रा डेवलपर्स इंडिया प्राइवेट लिमिटेड नाम से चिटफंड कंपनी संचालित की थी। हेड ऑफिस आगरा के संजय प्लेस में और ब्रांच ऑफिस फिरोजाबाद में बना रखा था। इनके द्वारा पांच साल में जमा पूंजी का दोगुना करने का लालच दिया गया था। जैसे ही समय पूरा होने को हुआ तो यह सभी फरार हो गए।

Firozabad News: ससुरालवालों ने गाउन में ही बहू को घर से बाहर निकाला, ससुराल के सामने धरने पर बैठी
कंपनी के भागने पर 27 मार्च 2019 को मुकदमा दर्ज किया गया था, तभी से पुलिस इनकी तलाश कर रही थी। आरोपी परिवार सहित अपने भाई राकेश शर्मा के घर मिलने आया था। इसी दौरान पुलिस ने इन्हें पकड़ लिया। जानकारी होने पर पैसा लगाने वाले लोग थाने पहुंच गए। आरोपियों द्वारा करीब 10 से 12 करोड़ रुपये गबन करने का आरोप है। इस कंपनी में आरोपी ने अपने बेटे और बेटी को भी डायरेक्टर बना रखा था। इसका एक पुत्र अभी फरार है। पुलिस उसकी तलाश कर रही है।

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!