cm city gorakhpur: Gorakhpur mein oxygen ki maang hui kam: गोरखपुर में ऑक्सीजन की मांग हुई कम


गोरखपुर
कोरोना की दूसरी लहर ने खूब तबाही मचाई, लेकिन अब यह लहर कुछ मंद पड़ती दिखाई दे रही है। गोरखपुर में ऑक्सिजन की घटती मांग इस बात की गवाही दे रही है। गीडा स्थित तीनों ऑक्सिजन फैक्ट्रियों में मंगलवार को अन्य दिनों की अपेक्षा कम संख्या में लोगों के पहुंचने पर अधिकारियों ने भी राहत की सांस ली है।

कोविड संक्रमण को लेकर गोरखपुर जिले के लिए राहत भरी खबर सामने आई है। औद्योगिक क्षेत्र गीडा स्थित ऑक्सिजन प्लांट में मंगलवार को सिलिंडर भराने वालों की संख्या अन्य दिनों की तुलना में कम रही। गीडा की तीन फैक्ट्रियों में ऑक्सिजन उत्पादन का काम चल रहा है, जिनमें मोदी केमिकल की दो फैक्ट्रियों में 4000 और आरके ऑक्सिजन फैक्ट्री में प्रति दिन 1000 सिलिंडर ऑक्सीजन तैयार हो रहा है।

मंगलवार को फैक्ट्री में ऑक्सिजन सिलिंडर लेने और रिफिल कराने वालों की भीड़ कम देखी गई। होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों के परिजनों को तुरंत गैस उपलब्ध हो जा रही थी। आरके ऑक्सिजन फैक्ट्री मैं तो मांग ना होने के कारण 1 घंटे के लिए उत्पादन बंद रहा।

ऑक्सिजन सिलिंडर भरवाने के लिए पहुंचे एक व्यक्ति ने बताया कि 3 दिन पहले ऑक्सिजन सिलिंडर भरवाने आया था तो करीब 12 घंटे तक इंतजार करना पड़ा, लेकिन आज महज आधा घंटा में ऑक्सिजन मिल गई है।

एसडीएम सुरेश राय का कहना है कि रोज लगभग 5000 ऑक्सिजन सिलिंडर भरे जाते थे। मांग कम होने से अब भीड़ खत्म हो गई है। अस्पतालों से मांग के आधार पर फोन करके सिलिंडर भरवाने के लिए मंगाना पड़ा है। मंगलवार को अन्य दिनों की अपेक्षा सिलिंडर की मांग लगभग आधी से भी कम रही, जो एक सुखद एवं राहत की बात है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!