Girls Adamant On Getting Married, Said – They Love – शादी करने की जिद पर अड़ीं छात्राएं, बोलीं- करती हैं प्यार


ख़बर सुनें

कोतवाली पुलिस के समझाने पर घर लौट गईं छात्राएं, अलग-अलग संप्रदाय की हैं दोनों

उझानी (बदायूं)। दो छात्राओं ने रविवार देर रात तक पुलिस को परेशानी में डाले रखा। दोनों कोतवाली पहुंची और आपस में प्यार करने की बात कहते हुए शादी करने की जिद पर अड़ गईं। भनक लगने पर उनके परिजन भी पहुंचे, लेकिन उन्हें समझाने में नाकाम रहे। बाद में पुलिस ने दोनों को घर लौट जाने पर राजी कर लिया।
मामला कस्बे के ही एक मोहल्ले के राजगीर की बेटी और पीलीभीत में तैनात स्वास्थ्य कर्मी की बेटी का है। स्वास्थ्य कर्मी भी कस्बे का ही मूल निवासी है। दोनों की बेटियां कक्षा आठ से बीए तक साथ-साथ पढ़ीं। शनिवार रात स्वास्थ्य कर्मी की बेटी अपनी सहेली के घर आ धमकी। रविवार दोपहर उसने अपने पिता को हकीकत से अवगत करा दिया। शाम को उसे लगा कि परिवार के लोग आते ही उसे साथ ले जाएंगे तो वह सहेली के साथ कोतवाली पहुंच गई। दोनों ने पुलिस को पूरे मामले से अवगत करा दिया। एक ने तो यहां तक कह दिया कि उन्हें आपस में जुदा करने की कोशिश की गई तो जान दे देंगी।
पुलिसकर्मियों की छात्राओं से बातचीत के दौरान ही दोनों के परिजन भी कोतवाली पहुंच गए। दोनों छात्राओं की जिद के आगे उनके परिजन परेशान हो उठे। दोनों छात्राएं अलग-अलग संप्रदाय से हैं। पुलिस के समझाने पर दोनों अपने परिजन के साथ घर लौट गईं, लेकिन उनके बीच संबंधों को लेकर काफी गहमागहमी का माहौल बना रहा। बताते हैं कि दोनों ने घर लौटने से पहले कोतवाली में एक समझौता पत्र भी लिखकर दिया है। उसमें कहा गया है कि वह अब अपने परिवार के साथ ही रहेंगी। एसएसआई खुर्शीद अहमद ने बताया कि दोनों छात्राएं कोतवाली आई थीं। वह एक दूसरे से शादी की बात करने लगीं तो उनके परिवार को बुलाकर बात की गई। वह अपने परिवार के साथ घर चली गईं। परिवार के लोग भी एक दूसरे के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं चाहते।

कोतवाली पुलिस के समझाने पर घर लौट गईं छात्राएं, अलग-अलग संप्रदाय की हैं दोनों

उझानी (बदायूं)। दो छात्राओं ने रविवार देर रात तक पुलिस को परेशानी में डाले रखा। दोनों कोतवाली पहुंची और आपस में प्यार करने की बात कहते हुए शादी करने की जिद पर अड़ गईं। भनक लगने पर उनके परिजन भी पहुंचे, लेकिन उन्हें समझाने में नाकाम रहे। बाद में पुलिस ने दोनों को घर लौट जाने पर राजी कर लिया।

मामला कस्बे के ही एक मोहल्ले के राजगीर की बेटी और पीलीभीत में तैनात स्वास्थ्य कर्मी की बेटी का है। स्वास्थ्य कर्मी भी कस्बे का ही मूल निवासी है। दोनों की बेटियां कक्षा आठ से बीए तक साथ-साथ पढ़ीं। शनिवार रात स्वास्थ्य कर्मी की बेटी अपनी सहेली के घर आ धमकी। रविवार दोपहर उसने अपने पिता को हकीकत से अवगत करा दिया। शाम को उसे लगा कि परिवार के लोग आते ही उसे साथ ले जाएंगे तो वह सहेली के साथ कोतवाली पहुंच गई। दोनों ने पुलिस को पूरे मामले से अवगत करा दिया। एक ने तो यहां तक कह दिया कि उन्हें आपस में जुदा करने की कोशिश की गई तो जान दे देंगी।

पुलिसकर्मियों की छात्राओं से बातचीत के दौरान ही दोनों के परिजन भी कोतवाली पहुंच गए। दोनों छात्राओं की जिद के आगे उनके परिजन परेशान हो उठे। दोनों छात्राएं अलग-अलग संप्रदाय से हैं। पुलिस के समझाने पर दोनों अपने परिजन के साथ घर लौट गईं, लेकिन उनके बीच संबंधों को लेकर काफी गहमागहमी का माहौल बना रहा। बताते हैं कि दोनों ने घर लौटने से पहले कोतवाली में एक समझौता पत्र भी लिखकर दिया है। उसमें कहा गया है कि वह अब अपने परिवार के साथ ही रहेंगी। एसएसआई खुर्शीद अहमद ने बताया कि दोनों छात्राएं कोतवाली आई थीं। वह एक दूसरे से शादी की बात करने लगीं तो उनके परिवार को बुलाकर बात की गई। वह अपने परिवार के साथ घर चली गईं। परिवार के लोग भी एक दूसरे के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं चाहते।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!