Hfpa विवाद: टॉम क्रूज ने वापस किया गोल्डन ग्लोब अवार्ड, जानें वजह?


एंटरटेनमेंट डेस्क, अमर उजाला
Published by: स्वाति सिंह
Updated Wed, 12 May 2021 12:05 AM IST

सार

फिल्म और टीवी के एनुएल पुरस्कारों और इसकी विविधता की कमी को देखते हुए नाराजगी है। इसी बीच हॉलीवुड स्टार टॉम क्रूज ने भी विरोध करते हुए अपने तीन गोल्डन ग्लोब अवॉर्ड वापस कर दिए। 

ख़बर सुनें

यूएस टेलीविजन नेटवर्क एनसीबी ने गोल्डन ग्लोब्स 2022 की सेरेमनी रद्द करने का फैसला लिया है। इस कड़े फैसले के पीछे नैतिक वजह बताई जा रही है। दरअसल, फिल्म और टीवी के एनुएल पुरस्कारों और इसकी विविधता की कमी को देखते हुए नाराजगी है। इसी बीच हॉलीवुड स्टार टॉम क्रूज ने भी विरोध करते हुए अपने तीन गोल्डन ग्लोब अवॉर्ड वापस कर दिए। 

खबरों की मानें तो, टॉम क्रूज ने साल 1990 में ‘बॉर्न ऑन द फोर्थ ऑफ जुलाई’ और 1997 में ‘जेरी मैग्यूयर’ के लिए बेस्ट एक्टर का गोल्डन ग्लोब अवार्ड जीता था। इसके अलावा साल 2000 में ‘मैगनोलिया’ के लिए उन्हें बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर का अवॉर्ड भी मिला था।

एनबीसी का फैसला हॉलीवुड फॉरेन प्रेस एसोसिएशन (HFPA) के पुरस्कारों को सौंप देने के बाद आया। उधर, नेटवर्क द्वारा जारी किए बयान में कहा गया, ‘हम मानते हैं कि HFPA सार्थक सुधार के लिए प्रतिबद्ध है। हालांकि, इसमें बदलाव के लिए काम और समय लगता है। हम उम्मीद करते हैं कि HFPA को इसे सही करने के लिए समय चाहिए।’

इस विवाद की शुरुआत लॉस एंजेलिस के मीडिया आउटलेट की एक रिपोर्ट के बाद हुई। HFPA के सदस्यों पर सेलेब्रिटी और स्टूडियो से सेक्सिस्ट, नस्लवादी टिप्पणी करने और फेवर करने का भी आरोप लगाया गया है। पिछले सप्ताह HFPA की सदस्यता ने विविधता और अन्य नैतिकता के मुद्दों की कमी को दूर करने के उद्देश्य से सुधारों के एक प्रस्ताव को मंजूरी देने के लिए मतदान भी करवाया था।

टाइम अप और पीआर फर्म के गठबंधन का कहना है कि सुधार लंबे समय तक नहीं चल पाते हैं। वहीं, नेटफ्लिक्स और अमेजन स्टूडियोज की घोषणा भी सामने आई है, जिसमें दोनों ने यह कहा था कि वे अब HFPA के साथ काम नहीं करेंगे। जब तक कि संगठन व्यापक बदलाव नहीं करता।

विस्तार

यूएस टेलीविजन नेटवर्क एनसीबी ने गोल्डन ग्लोब्स 2022 की सेरेमनी रद्द करने का फैसला लिया है। इस कड़े फैसले के पीछे नैतिक वजह बताई जा रही है। दरअसल, फिल्म और टीवी के एनुएल पुरस्कारों और इसकी विविधता की कमी को देखते हुए नाराजगी है। इसी बीच हॉलीवुड स्टार टॉम क्रूज ने भी विरोध करते हुए अपने तीन गोल्डन ग्लोब अवॉर्ड वापस कर दिए। 

खबरों की मानें तो, टॉम क्रूज ने साल 1990 में ‘बॉर्न ऑन द फोर्थ ऑफ जुलाई’ और 1997 में ‘जेरी मैग्यूयर’ के लिए बेस्ट एक्टर का गोल्डन ग्लोब अवार्ड जीता था। इसके अलावा साल 2000 में ‘मैगनोलिया’ के लिए उन्हें बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर का अवॉर्ड भी मिला था।

एनबीसी का फैसला हॉलीवुड फॉरेन प्रेस एसोसिएशन (HFPA) के पुरस्कारों को सौंप देने के बाद आया। उधर, नेटवर्क द्वारा जारी किए बयान में कहा गया, ‘हम मानते हैं कि HFPA सार्थक सुधार के लिए प्रतिबद्ध है। हालांकि, इसमें बदलाव के लिए काम और समय लगता है। हम उम्मीद करते हैं कि HFPA को इसे सही करने के लिए समय चाहिए।’

इस विवाद की शुरुआत लॉस एंजेलिस के मीडिया आउटलेट की एक रिपोर्ट के बाद हुई। HFPA के सदस्यों पर सेलेब्रिटी और स्टूडियो से सेक्सिस्ट, नस्लवादी टिप्पणी करने और फेवर करने का भी आरोप लगाया गया है। पिछले सप्ताह HFPA की सदस्यता ने विविधता और अन्य नैतिकता के मुद्दों की कमी को दूर करने के उद्देश्य से सुधारों के एक प्रस्ताव को मंजूरी देने के लिए मतदान भी करवाया था।

टाइम अप और पीआर फर्म के गठबंधन का कहना है कि सुधार लंबे समय तक नहीं चल पाते हैं। वहीं, नेटफ्लिक्स और अमेजन स्टूडियोज की घोषणा भी सामने आई है, जिसमें दोनों ने यह कहा था कि वे अब HFPA के साथ काम नहीं करेंगे। जब तक कि संगठन व्यापक बदलाव नहीं करता।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!